Sad shayari-Khamoshi teri jeene

Khamoshi teri jeene nahi deti bahut satati hai

Jaana teri yaad jo aati hai mujhko rula jaati hai

Tu mujhse door hai jab bhi ye gumaan karta hoon 

Hazaaro sabab khushi ke phir bhi har taraf maayusi nazar aati hai 

 

ख़ामोशी तेरी जीने नहीं देती बहुत सताती है 

जाना तेरी याद जब भी आती है मुझको रुला जाती है 

तू मुझसे दूर है जब भी ये गुमां करता हूँ 

हज़ारो  सबब ख़ुशी के फिर भी हर तरफ मायूसी नज़र आती है 

Hindi gazal-Dil ka har dard

दिल का हर दर्द खो गया जैसे 

में तो पत्थर का हो गया जैसे 

दाग बाक़ी नहीं की नक़्श कहूँ 

कोई  दीवार  धो  गया   जैसे 

जागता ज़हन ग़म की धुप में था 

छाँव पाते ही सो गया जैसे 

देखने वाला था कल उसका तपाक 

फिर से वो ग़ैर हो गया जैसे 

कुछ बिछड़ने के भी तरीके हैं 

खेर जाने दो जो गया जैसे 

 

Painful shayari-ajab dorahe pe zindagi

Ajab dorahe pe zindagi hai kabhi hawas dil ko kheechti hai

Kabhi ye sharmindagi hai dil mein ki itni fikre maash kyun hai

Na koi fikr na justuju hai na khwab hai koi na aarzoo

Ye shaqs to kab ka mar chuka hai to bekafan phir ye laash kyun hai

 

अजब दोराहे पे ज़िन्दगी है कभी हवस दिल को खींचती है

कभी ये शर्मिंदगी है दिल में की इतनी फिकरे मार्श क्यों है

ना कोई फ़िक्र न जुस्तुजू है ना ख्वाब है न कोई आरज़ू

ये शक़्स तो कब का मर चूका है तो बेकफन फिर ये लाश क्यों है